मेरी बीवी की चूत में नीग्रो का लंड- 1

बिग लंड की सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी बीवी बहुत सेक्सी है, मैं उसे अन्य मर्दों से सेक्स का मजा दिलवाना चाहता रहा हूँ. इस बार मैंने उसे नीग्रो का विशाल लंड दिलाया.

दोस्तो, मेरा नाम राज है और मैं पुणे में रहता हूं.

मेरी पिछली कहानी थी: मकान मालिक की कुंवारी बेटी मेरे मोटे लंड से चुदी

आपने मेरी पिछली सभी सेक्स कहानियों को बहुत प्यार दिया है.
इसके लिए आप सभी का शुक्रिया.

आज मैं फिर से आपके लिए एक नई सेक्स कहानी लेकर आया हूँ जो मेरी बीवी सीमा की चुदाई की कहानी है.
मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी ये बिग लंड की सेक्स कहानी बहुत पसंद आएगी.

जैसा कि मैंने अपनी बीवी का नाम सीमा बताया है, उसकी उम्र 25 साल है. वो दिखने में बहुत खूबसूरत है.
उसका फिगर बड़ा ही कातिल है. उसकी 34 सी की चूचियां हैं जिनके ऊपर छोटे छोटे चॉकलेटी निप्पल हैं.

जो भी उसके निप्पल को मुँह में ले ले, तो बस चूसता ही जाए, छोड़े ही नहीं.

नीचे उसके 36 नाप के चूतड़ है और कमर 30 की है. जब वो चलती है तो उसको देख कर अच्छे अच्छों का लंड खड़ा हो जाता है और हर कोई उसे बस चोदना चाहता है.

यह बात 2021 की है. अभी लॉक डाउन खत्म हुआ है तो हम दोनों अपनी शादी की सालगिरह मनाने के लिए मनाली गए थे.
हम दोनों मनाली पहुंचे और होटल के रूम में चैक-इन किया.

सीमा आज बहुत रोमांटिक मूड में दिख रही थी तो उसी मूड में उसने मुझे किस किया और शादी की सालगिरह की मुबारकबाद दी.

उसने बड़े प्यार से कहा- मेरे हबी को आज क्या तोहफा चाहिए?
मैंने उससे बोला- मुझे कुछ नहीं चाहिए.

पर वो नहीं मानी और बोली- बोलो न यार …. क्या तोहफा चाहिए आपको?
मैंने उससे कहा- छोड़ो यार … तुम नहीं दे पाओगी.

उसने हैरानी से पूछा- ऐसा क्या है जो मैं आपको नहीं दे सकती हूँ.
मैंने उसकी ओर देखा और बोला- प्रॉमिस करो कि जो मुझे चाहिए, वो तुम दोगी.
उसने मुझसे वादा किया.

मैंने फौरन से उसको बोला- मुझे ये गिफ्ट चाहिए कि तुम मेरे सामने किसी नीग्रो लड़के से रात भर चुदाई करो. मैं उसके लंड पर तुमको सवार होकर चुदते हुए देखना चाहता हूँ.

इस बात पर सीमा एकदम से गुस्सा हो गई और हमारी लड़ाई हो गई.
मैंने उसको अपने प्यार का हवाला देते हुए इमोशनल किया.

तब वो बोली- अगर मैंने ऐसा किया तो तुम मुझे छोड़ दोगे.
मैंने उससे वादा किया कि मैं ऐसा कुछ भी नहीं करूंगा.

तब वो बोली- ठीक है, मैं सिर्फ आपकी खुशी के लिए ये सब करूंगी, पर ये सब मैं आपके सामने नहीं करूंगी.

मैं बहुत खुश हुआ और मैंने उसको गले लगा लिया.
फिर उसको रूम में छोड़ कर एक नीग्रो जवान लड़के को ढूँढने बाहर निकल गया.

मुझे एक एजेंट मिला, जिससे मैंने सीमा की फ़ोटो दी और कहा- एक जवान अफ्रीकन लड़का चाहिए.
वो मान गया और मैं होटल वापस आ गया.

सीमा थोड़ी डरी हुई थी.
मैंने उसे हौसला दिया और हमने दोपहर का खाना खाया.

शाम को उस एजेंट का कॉल आया कि एक अफ्रीकन लड़का मिल गया है, उसको भी इंडियन लड़की चाहिए है.

हमारी बात फिक्स हो गई और मैंने उसको एक अच्छे इनाम की लालच देते हुए सौदा तय कर दिया.

मैंने ये बात सीमा को बताई और उसको पार्लर जाकर आने को कहा.
वो पार्लर जाकर वैक्सीन वगैरह सब करवा के आ गई.

आज मैंने उसे अपने हाथों से तैयार किया था.
उसको मैंने साड़ी पहने को कहा, उसने पहन ली.

इस साड़ी ब्लाउज में वो गजब की माल लग रही थी.
उसका ब्लाउज नेट वाला था और उसके अन्दर सीमा ने सेक्सी लाल रंग की ब्रा पहनी हुई थी.
उसकी चूचियां आज कुछ ज्यादा ही कामुक लग रही थीं.

वो मेरी तरफ देख कर बोली- कैसी लग रही हूँ?
मैंने कहा- एकदम सनी लियोनी लग रही हो.

वो हंस कर बोली- आज सनी लियोनी जैसी ही हरकत भी करने वाली हूँ.
मैंने कहा- हां जान मुझे भी ये सब सोच कर बड़ा मजा आ रहा है.

अब मैंने सीमा को तैयार करके बिठा दिया और उस लड़के के आने की राह देखने लगे.

करीब 9 बजे वो लड़का हमारे रूम में आया और मैंने दरवाजा खोल कर उसका स्वागत किया.
मैंने देखा कि वो एक साढ़े छह फीट लंबा लड़का था.

वो सीधा बेडरूम में घुसता चला आया.
सीमा तैयार होकर चुदाई के लिए उसका इंतजार कर रही थी.

उसने अन्दर जाकर सीमा को हैलो बोला और अपना नाम हैरी बताया.
सीमा ने भी उससे हैलो बोला और उसको अपना नाम बताया.

सीमा को मेरे सामने उससे बात करने को झिझक हो रही थी इसलिए उसने मुझे बाहर जाने बोला.

हैरी को मैंने बाय बोला और रूम से बाहर आ गया. हैरी ने रूम को लॉक कर दिया.

अब इसके आगे की कहानी आप सीमा की जुबानी सुनिए.

दोस्तो, मैं सीमा आप सभी को मेरा नमस्ते.

जैसे ही मेरे हसबैंड बाहर गए, हैरी ने रूम लॉक कर दिया और मेरे पास आकर बैठ गया.

हम दोनों में 2 मिनट कुछ बात हुई.
फिर उसने धीरे से मेरे होंठों को किस करना शुरू कर दिया.
मैं सिहर गई.
ये मेरे लिए पहला मौका था जब कोई गैर मर्द मुझे चूम रहा था.

मेरे नाजुक मुलायम होंठ उसके काले सख्त होंठों से रगड़ खा रहे थे.
मैं शुरुआत में अजीब सा महसूस कर रही थी पर बाद में मैं बहकने लगी और उसका साथ देने लगी.

अब हैरी किस करते हुए मेरे नर्म चूचों पर अपना हाथ ले आया और उनको दबाने लगा.
मुझे फिर से अजीब सी सिरहन होने लगी और मैं उसको किस करने लगी.

कुछ देर यूं ही करने के बाद हैरी ने मेरी साड़ी का पल्लू नीचे गिरा दिया और मेरे गले पर जगह जगह चूमने लगा.
देखते ही देखते उसने मुझे ऊपर से पूरी नंगी कर दिया.
मुझे बहुत शर्म आ रही थी इसलिए मैं अपने दोनों हाथों से अपनी चूचियों को छुपाने लगी.

इससे हैरी को और जोश आने लगा और उसने मेरे दोनों हाथ पकड़ कर एक बाजू कर दिए.
फिर वो बारी बारी से मेरे दोनों नर्म चूचों को मुँह में लेकर चूसने लगा, खींचने लगा.

अब मैं और ज्यादा पागल होने लगी और उसका सिर अपने चूचों पर दबाने लगी.
हैरी ने बहुत देर तक मेरी दोनों चूचियों को चूस चूस कर लाल कर दिया.

फिर धीरे धीरे करके उसने मुझे नीचे से नंगी कर दिया.

मैंने सुबह ही वैक्सिंग करवाई थी इसलिए जब उसने मेरी चूत को देखा, तो एकदम से उस पर टूट पड़ा और कुत्ते की तरह मेरी चूत को चाटने लगा.
हैरी की जुबान बहुत लंबी थी इसलिए वो अपनी पूरी जीभ को मेरी चूत में घुसा कर मेरी चूत का रस पीने लगा.

हैरी ने 20 मिनट तक मेरी चूत को चूसा जिसमें मैं दो बार झड़ गई थी.
मेरी चूत का पूरा रस हैरी ने चाट चाट कर पी लिया.

मैं इतने में ही थक कर चूर हो गई थी.
तभी हैरी ने अपने पूरे कपड़े उतारे और उसके भीमकाय लंड को देख कर मेरे तो होश ही उड़ गए क्योंकि हैरी का लंड कम से कम 10 इंच लंबा और 4 इंच मोटा था.

उसके बिग लंड को देख मेरी गांड फट गई, मैं उससे चुदाई के लिए मना करने लगी.
पर हैरी अब मुझे छोड़ने को तैयार नहीं था.

वो सीधा मेरे पास आया और लेट कर मुझे किस करने लगा.
मैं एक बार फिर से बहकने लगी और धीरे धीरे उसका साथ देने लगी.

इसी बीच मेरे पैर अपने आप खुल गए और हैरी मेरे पैरों के बीच आ गया.
वो मेरी चूत पर लंड रगड़ने लगा, जिससे मैं जल बिन मछली की तरह तड़पने लगी.

मुझे जब तक कुछ समझ में आता, उससे पहले उसने मेरी चूत पर लंड रख कर एक जोर का शॉट दे मारा.
उसका तीन इंच लंड मेरी चूत को चीरता हुआ अन्दर घुस गया.

मैं बहुत जोर से चिल्ला पड़ी.
मेरी आंखों के सामने अंधेरा छाने लगा.
मैं हैरी से लंड बाहर निकलने को बोलने लगी, रोने लगी.

पर उसने मेरी चिल्लपौं पर जरा भी ध्यान नहीं दिया.

वो धीरे धीरे अपने लंड को अन्दर बाहर करने लगा.
मुझे अपनी चूत की फांकों को चिरता सा महसूस होने लगा और बहुत दर्द होने लगा.

मैं बराबर उसकी छाती को अपने हाथ से धकेलने की कोशिश कर रही थी और कराह रही थी.

मगर वो किसी पागल सांड की तरह मुझे चोदता रहा.

थोड़ी देर बाद मेरा दर्द मजे में बदल गया और मैं मजे से उसके बिग लंड से चुदने लगी.
तभी हैरी ने लंड बाहर निकाल लिया, जिससे मुझे बहुत गुस्सा आया.

तभी हैरी ने मुस्कुराते हुए मुझे पलट दिया और मुझे घोड़ी बनाकर झट से लंड मेरी चूत में पेल दिया.
इस बार मुझे एक अजीब सा सुकून मिला.

हैरी का लंड अब मेरी चूत में अच्छे से फिट हो गया था और वो बहुत लंबे लंबे शॉट मारकर मेरी चूत की बैंड बजा रहा था.

हमारा पहला राउंड 25 मिनट तक चला.
इसके बाद हैरी और मैं एक साथ ही झड़ गए.

थोड़ी देर आराम करने के बाद मैं बाथरूम जाने को उठी तो मैं ब्रा पैंटी ढूँढने लगी.
वो दोनों हैरी के तकिए के पास रखी हुई थीं.

जैसे ही मैं उन्हें लेने के लिए झुकी, मेरी चूचियां हैरी के मुँह के पास आ गईं.
हैरी ने झट से मेरी एक चूची को मुँह में भर लिया और मुँह में दबा कर चूसने लगा.

मैंने हंसते हुए अपना ब्रा पैंटी ले ली और उससे खुद को छुड़ा कर टॉवल लेकर बाथरूम में भाग गई.

बाथरूम में जाकर मैंने अपनी चूत को अच्छे से साफ किया और ब्रा पैंटी पहन कर टॉवल बांध कर बाहर आ गई.

हैरी को मेरा ऐसे बदन को ढकना और सेक्सी लगा.
उसने मुझे अपने पास खींचा और वापस मुझे किस करने लगा.

कब मैं पुनः पूरी नंगी हो गई, मुझे पता ही नहीं चला.
हमारा चुदाई का प्रोग्राम फिर से शुरू हो गया.

उस रात हैरी ने मुझे 4 बार लंबे लंबे शॉट के साथ जम कर चोदा जिसमें मैंने भी उसका साथ दिया.

सुबह 5 बजे हम दोनों सो गए.

करीब 7 बजे मेरे हस्बैंड हमें उठाने आए, तब हम दोनों उठे.
मैं नंगी थी तो मुझे शर्म आ रही थी इसलिए मैं बाथरूम में नहाने चली गई.

उस समय हैरी का भी नहाने का मन था, तब वो भी मेरे पीछे मेरे पति के सामने ही बाथरूम में आ गया.

मेरे पति कमरे का दरवाजा बंद करके बाहर चले गए.
हम दोनों बाथरूम में थे, उसने वहां भी मेरे साथ एक बार सेक्स किया.

इस बार हैरी ने मुझे अपने मजबूर हाथों में उठा कर मेरी चूत में लंड पेला और मेरी जानवरों जैसी चुदाई की.

फिर वो नहा कर बाहर चला गया.

कुछ देर बाद मैं भी बेड पर आकर सो गई.
पूरी रात चुदाई की थकान से मैं इतनी ज्यादा थक गई थी कि मैं शाम से पहले उठी ही नहीं.

तो दोस्तो, यह थी मेरी सेक्स कहानी, उम्मीद करती हूं आप सभी को ये कहानी बहुत पसंद आई होगी.

आप सभी लड़के अपने लंड हिलाकर पानी निकालें और लड़कियां अपनी चूत में उंगली करके पानी निकालें.

दोस्तो, इस सेक्स कहानी में अभी एक ट्विस्ट भी है.
वो क्या ट्विस्ट है, ये मैं अपनी सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूँगी.

आपको मेरी बिग लंड की सेक्स कहानी कैसी लगी, मुझे जरूर मेल करके बताएं.
[email protected] com

बिग लंड की सेक्स कहानी का अगला भाग: